कर्क राशि पुष्य नक्षत्र

kark lagna moola nakshatra

कर्क लग्न मूल नक्षत्र – मूल नक्षत्र – Feel the original constellation Cancer – kark lagna moola nakshatra

कर्क लग्न में नक्षत्र स्वामी केतु की नवम पंचम तृतीय द्वितीय भाव में व राशि स्वामी गुरु की स्थिति नवम लग्न पंचम तृतीय द्वितीय भाव में हो तो ऐसा जातक भाग्यवान, विद्या, संतान से उत्तम प्रभावशील, प्रत्येक क्षेत्र में उत्तम सफलता पाने वाला होगा। kark lagna moola nakshatra – कर्क लग्न मूल नक्षत्र – कर्क …

कर्क लग्न मूल नक्षत्र – मूल नक्षत्र – Feel the original constellation Cancer – kark lagna moola nakshatra Read More »

pushya nakshatra ke jatak paripakv hote hain

पुष्य नक्षत्र के जातक परिपक्व होते हैं – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – The native of flower constellation mature – pushya nakshatra ke jatak paripakv hote hain

पुष्य नक्षत्र का स्वामी शनिदेव है । शनि के प्रभाव से इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले व्यक्ति का स्वभाव व व्यवहार कैसा होता है आइये इस पर चर्चा करते हैं।ज्योतिषशास्त्र में पुष्य नक्षत्र को बहुत ही शुभ माना गया है । वार एवं पुष्य नक्षत्र के संयोग से रवि-पुष्य जैसे शुभ योग का निर्माण …

पुष्य नक्षत्र के जातक परिपक्व होते हैं – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – The native of flower constellation mature – pushya nakshatra ke jatak paripakv hote hain Read More »