;

bharat ki kundli 2020

purv bharat ki kundali

पूर्व भारत की कुंडली – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – purv bharat ki kundali – Barahavaan Din

देश के पूर्वी भागों में प्रचलित कुंडली में उत्तर व दक्षिणी भारत दोनों का स्वरुप देखने को मिलता है, लेकिन कुंडली का प्रारुप अलग ही होता है। दक्षिण भारतीय पद्धति की तरह इसमें राशियाँ स्थिर होती हैं लेकिन राशियों को क्रम से उत्तर भारतीय पद्धति के अनुसार बाईं ओर से लिखा जाता है। भाव योजना …

पूर्व भारत की कुंडली – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – purv bharat ki kundali – Barahavaan Din Read More »

paashchaatya deshon ki kundali

पाश्चात्य देशों की कुंडली – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – paashchaatya deshon ki kundali – Barahavaan Din

पाश्चात्य देशों में वृत्ताकार कुंडली बनाने का प्रचलन है। लग्न से आरंभ करने पर कुंडली बारह भावों में बंट जाती है। लग्न स्पष्ट को प्रथम भाव का आरंभ माना जाता है। लेकिन भारतीय पद्धति में लग्न स्पष्ट को प्रथम भाव का भाव मध्य माना जाता है। इसमें भावों को बांई ओर से क्रम से रखा …

पाश्चात्य देशों की कुंडली – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – paashchaatya deshon ki kundali – Barahavaan Din Read More »