vaidik kal kya hai vastu purush?

वैदिक कालक्या है वास्तुपुरुष? – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik kal kya hai vastu purush? – vedic vastu shastra

वास्तु पुरुष की कल्पना भूखंड में एक ऐसे औंधे मुंह पड़े पुरुष के रूप में की जाती है, जिससे उनका मुंह ईशान कोण व पैर नैऋत्य कोण की ओर होते हैं! उनकी भुजाएं व कंधे वायव्य कोण व अग्निकोण की ओर मुड़ी हुई रहती है! देवताओं से युद्ध के समय एक राक्षस को देवताओं ने …

वैदिक कालक्या है वास्तुपुरुष? – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik kal kya hai vastu purush? – vedic vastu shastra Read More »