graho ki sthiti

ग्रहों की स्थिति ग्रहों की स्थिति – दूसरा दिन – Day 2 – 21 Din me kundli padhna sikhe – graho ki sthiti – Doosara Din

ग्रह स्थिति का अध्ययन करना जन्म कुंडली का बहुत महत्वपूर्ण पहलू है। इनके अध्ययन के बिना कुंडली का कोई आधार ही नहीं है।

पहले यह देखें कि किस भाव में कौन सा ग्रह गया है, उसे नोट कर लें। फिर देखें कि ग्रह जिस राशि में स्थित है उसके साथ ग्रह का कैसा व्यवहार है। जन्म कुंडली में ग्रह मित्र राशि में है या शत्रु राशि में स्थित है, यह एक अन्य महत्वपूर्ण पहलू है इसे नोट करें। ग्रह उच्च, नीच, मूल त्रिकोण या स्वराशि में है, यह देखें और नोट करें।

जन्म कुंडली के अन्य कौन से ग्रहों से संबंध बन रहे है इसे भी देखें। जिनसे ग्रह का संबंध बन रहा है वह शुभ हैं या अशुभ हैं, यह जांचे। जन्म कुंडली में ग्रह किसी तरह के योग में शामिल है या नहीं, जैसे राजयोग, धनयोग, अरिष्ट योग आदि अन्य बहुत से योग हैं।

ग्रहों की स्थिति ग्रहों की स्थिति – graho ki sthiti – दूसरा दिन – Day 2 – 21 Din me kundli padhna sikhe – Doosara Din

संपूर्ण चाणक्य निति
संपूर्ण चाणक्य निति
Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment