जादू टोना से बचने की दुआ और अचूक उपाय

जादू टोना से बचने की दुआ और अचूक उपाय

जादू टोना से बचने की दुआ और अचूक उपाय : जादू टोना का पता लगाना के कई तरीके हैं, लेकिन कम ही लोग जानते हैं। बुरी नजर लगना न केवल किसी व्यक्ति को बीमार बनाता है, बल्कि यह घातक भी हो सकता है। पृथ्वी पर दो प्रकार की शक्तियाँ हैं, एक अच्छी है और दूसरी बुरी है।

अच्छी शक्ति आपके अंदर सकारात्मक सोच और नई ऊर्जा पैदा करती है, जबकि बुरी शक्ति आपको अंदर से कमजोर और खोखला बनाए रखती है। लोग दूसरों को परेशान करने के लिए बुरी शक्ति का इस्तेमाल करते हैं।

जादू टोना से बचने की दुआ
जादू टोना से बचने की दुआ

इसे जादू टोना कहा जाता है। यह सच है कि आज भी लोग दूसरों का जीवन खराब करने के लिए जादू का इस्तेमाल करते हैं। आश्चर्य की बात यह है कि जादू टोना न केवल गांवों में बल्कि लोगों द्वारा शिक्षित शहर में भी उपयोग किया जाता है।

लोगों की ईर्ष्या, अभिमान और दूसरों के प्रति बदला उन्हें ऐसे गलत काम करने के लिए प्रेरित करता है जो बहुत गलत है। जादू टोना न केवल मनुष्यों पर हावी है बल्कि कभी-कभी उनकी जान भी ले लेता है।

जादू टोना से बचने के अचूक उपाय क्या है?

  • सबसे पहले, एक बाबा या गुरु से उस बुरी शक्ति का पता लगाएं और उपाय करें।
  • अगर आप खुद को और अपने परिवार को जादू टोना से बचाना चाहते हैं। इसलिए सबसे पहले आप रोजाना हनुमान चालीसा का अध्ययन करना शुरू कर दें।
  • वहीं, संध्या वंदन के साथ हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें। आपको बता दें कि संध्या वंदन सुबह या शाम को घर में या मंदिर में किया जाता है।
  • ऐसा माना जाता है कि पवित्र आत्मा और शांतिपूर्वक हनुमान चालीसा पढ़ने से हनुमान जी की कृपा प्राप्त होती है और यह आपको सभी प्रकार की अज्ञानता और अनहोनी से भी बचाता है।
  • हनुमान चालीसा पढ़ने के बाद, हनुमान जी की आरती कपूर के साथ स्मरण में करें।
  • यही नहीं, रात को सोने से पहले अपने तकिए के नीचे हनुमान चालीसा रखें और फिर उसे तांबे के लोटे में जलाएं और उसमें थोड़ा सा लाल चंदन मिलाएं। अब उस पात्र को अपने सिर पर रखकर रात को सो जाएं।
  • सबसे पहले सुबह उठकर उस जल को तुलसी के पौधे में स्मरण के साथ अर्पित करें। ध्यान रखें कि आपको इस प्रक्रिया को कुछ दिनों तक करना होगा क्योंकि तभी आपकी परेशानियाँ धीरे-धीरे दूर होंगी।
  • जो लोग दृष्टि के कारण बहुत परेशान हो गए हैं, तो उन्हें हर मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी को सिंदूर लगाना चाहिए और वही सिंदूर उनके माथे पर भी लगाना चाहिए। हनुमान जी के सिंदूर को माथे पर लगाने से व्यक्ति की नजर आसानी से उतर जाती हैं।
  • हालांकि, आप नजर उतरने के लिए लहसुन, नमक, प्याज, सूखी मिर्च का भी उपयोग कर सकते हैं।
  • स्वयं को बुरी नजर से बचाने के लिए कलावा, या काला धागा हाथ में बांधें। आप चाहें तो इसे किसी बाबा से पढ़कर बंधवा सकते हैं।
  • हमेशा भगवान से जुड़ी कोई वस्तु अपने साथ रखें।
  • जादू टोने से बचने के लिए, घर पर रोजाना घूमना करें, घर के बाहर नींबू-हरी मिर्च या चमड़े के जूते लटकाएँ।
  • अगर घर का कोई सदस्य टोना-टोटका करता है, तो उसमें से लाल कपड़ा और एक लोटा निकालकर बहते पानी में डालें।
ये भी पढ़े :   जादू-टोना फेल हो जाता है इस एक चमत्कारी पौधे से - पीपल के पेड़ पर भूत नहीं, दु:ख दूर करने के उपाय देखें - jadu-tona phel ho jata hai is ek chamatkari paudhe se - pipal ke ped ke upay in hindi

जादू टोना से बचने की दुआ

नीचे दी गई दुआ का पालन करके, किसी भी प्रकार के जादू को सात दिनों में समाप्त किया जा सकता है। उसके लिए प्रार्थना और अमल करने का तरीका इस प्रकार है-

दुआ कुछ एस प्रकार है,

अलीक मलीक-अंता-अल-इलफी कुलूबिहिम मलीक 
फिरवाना हामाना शाद्दा-दा नामरूदा
आरदा दक्यानूसार जीजूना मीजूना ला-ईना या माल उनाना 
फी नारी जन्नम दफा उम्मा-स्सियानी-अल खान्नसी मिन जुनूदी वी इबलीसा।

Lal Kitab in Hindi
Kundli dosh nivaran in hindi

दुआ अमल करने का तरीका

  • ऊपर दिए गए दुआ को साफ कागज पर लिखें और उसकी रोशनी बनाएं। जैसे यह दीपक में रोशनी के लिए बनाया जाता है।
  • इस पेपर को नीले धागे से लपेटें और उस पर एक साफ रूई लपेटें।
  • फिर मिट्टी के दीपक को पानी से धोकर साफ करें। दीपक को कच्चे संघनित सरसों के तेल से भरें। इसमें एक प्रकाश डालें और अकेले कमरे में मग़रिब या ईशा चिराग की थाली जलाएं। उस पर एक नजर है। तब तक इसे घूरते रहें जब तक कि तोड़फोड़ जलकर नष्ट न हो जाए। इस दौरान ‘बिस्मिल्लाहि-रहमानी-रहीम’ पढ़ते रहें। उससे पहले दारुद शरीफ को 11 बार पढ़ें। दीपक बुझने के बाद भी 11 बार दुरूद शरीफ़ पढ़ें।
  • दीपक का पता चलने के बाद, इसे अपने हाथ में रखें। यदि कुछ जला हुआ कचरा बेकार हो जाता है, तो उसे एक साफ जगह जैसे कि मिट्टी या मिट्टी में दफनाएं या पानी में बहा दें।
  • यह काम रोजाना सात दिनों तक करें। एक पलटा बनाएं और बिना किसी नागा दीपक में जलाएं।
  • इंशा अल्लाह, आप पर जो भी अशरत या जादू या प्रतिबंध होगा, वह अल्लाह सुब्हानहु वताला के आशीर्वाद से हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगा। जितना अधिक आप अल्ला की प्रशंसा करते हैं, उतना बेहतर है।
  • महिलाएं भी इस अभ्यास को कर सकती हैं, लेकिन उन्हें यह निर्देश दिया जाता है कि वे मासिक धर्म के बाद सफाई से करें।
Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,