मृगशिरा नक्षत्र

sinh lagn uttara bhaadrapad

सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Leo ascendant Uttara Bhadrapad – sinh lagn uttara bhaadrapad

सिंह लग्न में नक्षत्र स्वामी फलदायी रहेगा। ऐसे जातक शत्रुहंता, उत्तम आयु के होंगे। sinh lagn uttara bhaadrapad – सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – Leo ascendant Uttara Bhadrapad  

punarvasu ke jaatak ka vyaktitv

पुनर्वसु के जातक का व्यक्तित्व – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – Personality native of Punarvasu – punarvasu ke jaatak ka vyaktitv

इस नक्षत्र के विषय में मान्यता है कि जो व्यक्ति इस नक्षत्र में जन्म लेते हैं उनमें कुछ न कुछ दैवी शक्ति होती है। इस नक्षत्र के जातक में और क्या गुण होते हैं और उनका व्यक्तित्व कैसा होता है आइये चर्चा करें:ज्योतिषशास्त्र मे कहा गया है कि जो व्यक्ति पुनर्वसु नक्षत्र में जन्म् लेते …

पुनर्वसु के जातक का व्यक्तित्व – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – Personality native of Punarvasu – punarvasu ke jaatak ka vyaktitv Read More »

aardra nakshatr ke jaatakavyaktitv

आर्द्रा नक्षत्र के जातकव्यक्तित्व – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – Ardra constellation Jatkwyktitv – aardra nakshatr ke jaatakavyaktitv

इस नक्षत्र की राशि मिथुन होती है। जो व्यक्ति इस नक्षत्र में जन्म लेते हैं उन पर जीवनभर राहु देव और बुधदेव का प्रभाव रहता है। राहुदेव और बुधदेव के प्रभाव के कारण व्यक्ति का जीवन, स्वभाव और व्यक्तित्व किस प्रकार होता है चलिए इसकी खोज करते हैं।शायद आपको पता होगा कि राहुदेव के प्रभाव …

आर्द्रा नक्षत्र के जातकव्यक्तित्व – जन्म नक्षत्र का व्यक्तित्व पर प्रभाव – Ardra constellation Jatkwyktitv – aardra nakshatr ke jaatakavyaktitv Read More »

bharani nakshatra samsya

भरणी नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Bharani constellation – bharani nakshatra samsya

भरणी नक्षत्र के देवता शुक्र को माना जाता है,जबकि वैज्ञानिक ष्टिकोण से युग्म वृक्ष के पेड को भरणी नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है और भरणी नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग युग्म वृक्ष की पूजा करते है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने घर के खाली हिस्से में युग्म वृक्ष के पेड …

भरणी नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Bharani constellation – bharani nakshatra samsya Read More »

rohinee nakshatr samsya

रोहिणी नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Rohini constellation – rohinee nakshatr samsya

रोहिणी नक्षत्र के देवता चंद्र को माना जाता है,जबकि वैज्ञानिक ष्टिकोण से जामुन के पेड को रोहिणी नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है और रोहिणी नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग जामुन के पेड की पूजा करते है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने घर के खाली हिस्से में जामुन के पेड को …

रोहिणी नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Rohini constellation – rohinee nakshatr samsya Read More »

ardra nakshatra samsya

आद्रा नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Adra Star – ardra nakshatra samsya

आद्रा नक्षत्र के देवता राहु को माना जाता है,जबकि वैज्ञानिक ष्टिकोण से पाकड के पेड को आद्रा नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है और आद्रा नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग पाकड वृक्ष की पूजा करते है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने घर के खाली हिस्से में पाकड के पेड को लगाते …

आद्रा नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Adra Star – ardra nakshatra samsya Read More »

punarvasu nakshatra samsya

पुनर्वसु नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Punarvasu Star – punarvasu nakshatra samsya

पुनर्वसु नक्षत्र के देवता वृहस्पति को माना जाता है,जबकि वैज्ञानिक ष्टिकोण से बांस के पेड को पुनर्वसु नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है और पुनर्वसु नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग बांस के वृक्ष की पूजा करते है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने घर के खाली हिस्से में बांस के पेड को …

पुनर्वसु नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – Punarvasu Star – punarvasu nakshatra samsya Read More »

Rohini Nakshatra

रोहिणी चंद्रमा की सुंदर पत्नी – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Rohini beautiful wife of the Moon – Rohini Nakshatra

रोहिणी नक्षत्र को वृष राशि का मस्तक कहा गया है। इस नक्षत्र में तारों की संख्या पाँच है। भूसे वाली गाड़ी जैसी आकृति का यह नक्षत्र फरवरी के मध्य भाग में मध्याकाश में पश्चिम दिशा की तरफ रात को 6 से 9 बजे के बीच दिखाई देता है। यह कृत्तिका नक्षत्र के पूर्व में दक्षिण …

रोहिणी चंद्रमा की सुंदर पत्नी – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Rohini beautiful wife of the Moon – Rohini Nakshatra Read More »

bharani nakshatra

भरणी नक्षत्र – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Bharani constellation – bharani nakshatra

जिस जातक का जन्म भरणी नक्षत्र में हो तो उसकी राशि मेष होगी वहीं नक्षत्र का स्वामी शुक्र होगा। इस नक्षत्र में जन्में जातक पर मंगल, शुक्र का प्रभाव जीवन भर पड़ेगा जहाँ ऊर्जा, साहस महत्वाकांक्षा देगा। वहीं शुक्र कला, सौंदर्य धन व सेक्स का कारण बनता है। भरणी में जन्म होने से जन्म के …

भरणी नक्षत्र – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Bharani constellation – bharani nakshatra Read More »