सत्ताईस नक्षत्र इन हिंदी

अश्लेषा नक्षत्र पूजा विधि

अश्लेषा नक्षत्र पूजा विधि – Ashlesha nakshatra puja vidhi

अश्लेषा नक्षत्र पूजा विधि : अश्लेषा जातक हमेशा कार्य की सेवा करते हैं। भाई की सेवा और काम करना स्वाभाविक है। स्वतंत्र होने पर वे परोपकारी होते हैं। Lal Kitab in Hindi अश्लेषा नक्षत्र की गुणवत्ता और प्रकृति अश्लेषा नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोगों के प्राकृतिक गुण सांसारिक उन्नति, लज्जा और सौंदर्य के प्रयास …

अश्लेषा नक्षत्र पूजा विधि – Ashlesha nakshatra puja vidhi Read More »

mool shaanti kee saamagree

मूल शांति की सामग्री – मूल नक्षत्र और उनके प्रभाव – Original peace Materials – mool shaanti kee saamagree

घडा एक,करवा एक,सरवा एक,पांच प्रकार के रंग,नारियल एक,५०सुपारी,दूब,कुशा,बतासे,इन्द्र जौ,भोजपत्र,धूप,कपूर आटा चावल २ गमछे, दो गज लाल कपडा चंदोवे के लिये, मेवा ५० ग्राम, पेडा ५० ग्राम, बूरा ५० ग्राम,केला चार,माला दो,२७ खेडों की लकडी, २७ वृक्षों के अलग अलग पत्ते,२७ कुंओ का पानी,गंगाजल यमुना जल,हरनन्द का जल,समुद्र का जल अथवा समुद्र फ़ेन,आम के पत्ते,पांच रत्न,पंच …

मूल शांति की सामग्री – मूल नक्षत्र और उनके प्रभाव – Original peace Materials – mool shaanti kee saamagree Read More »

mool nakshatr havan saamagree

हवन सामग्री – मूल नक्षत्र और उनके प्रभाव – incense burner – mool nakshatr havan saamagree

चावल एक भाग,घी दो भाग बूरा दो भाग, जौ तीन भाग, तिल चार भाग,इसके अतिरिक्त मेवा अष्टगंध इन्द्र जौ,भोजपत्र मधु कपूर आदि। एक लाख मंत्र के एक सेर हवन सामग्री की जरूरत होती है,यदि कम मात्रा में जपना हो तो कम मात्रा में प्रयोग करना चाहिये। mool nakshatr havan saamagree – मूल नक्षत्र हवन सामग्री …

हवन सामग्री – मूल नक्षत्र और उनके प्रभाव – incense burner – mool nakshatr havan saamagree Read More »

Gandmool dosh nivaran puja

गंड मूल दोष निवारण पूजा – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Malar original defect prevention worship – Gandmool dosh nivaran puja

किसी कुंडली में उपस्थित भिन्न भिन्न प्रकार के दोषों के निवारण के लिए की जाने वाली पूजाओं को लेकर बहुत सी भ्रांतियां तथा अनिश्चितताएं बनीं हुईं हैं तथा एक आम जातक के लिए यह निर्णय लेना बहुत कठिन हो जाता है कि किसी दोष विशेष के लिए की जाने वाली पूजा की विधि क्या होनी …

गंड मूल दोष निवारण पूजा – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Malar original defect prevention worship – Gandmool dosh nivaran puja Read More »