ishan kon compass

ishan kon

ईशान कोण – चमत्कारिक टोटके – ishan kon – chamatkari totke

यदि अपने मकान का ईशान कोण पर बना अधिकभार वाला भाग हटा दें। तथा नैऋति कोण का मकान ऊँचा बना दे अर्थात वजन बढ़ा दें तो कर्जा अपने आप खत्म हो जाएगा। भूलकर भी ईशान कोण का हिस्सा ऊँचा न करे तथा नैऋति का भाग नीचा न करे अर्थात अधिक ऊँचा करे तो कर्जा समाप्त …

ईशान कोण – चमत्कारिक टोटके – ishan kon – chamatkari totke Read More »

uttar ke dosh धन हानि व तनाव के कारण

उत्तर के दोष धन हानि व् तनाव के कारण – वैदिक वास्तु शास्त्र – uttar ke dosh धन हानि व तनाव के कारण – vedic vastu shastra

कुछ दिन पूर्व पंडित जी पष्चिम विहार के एक व्यापारी के यहां वास्तु परीक्षण करने गये थे! घर देखने पर उन्होंने बताया कि कुछ समय से निर्यात का काम ठीक नहीं चल रहा है! घर की बड़ी महिला अक्सर बीमार रहती है! परिवार में मतभेद रहते हैं तथा घर में छोटे बेटे को उचित सम्मान …

उत्तर के दोष धन हानि व् तनाव के कारण – वैदिक वास्तु शास्त्र – uttar ke dosh धन हानि व तनाव के कारण – vedic vastu shastra Read More »

ishan kon (jal sthan )mein kya ho

ईशान कोण (जल स्थान )में क्या हो, क्या न हो? – वैदिक वास्तु शास्त्र – ishan kon (jal sthan )mein kya ho, kya na ho? – vedic vastu shastra

वास्तु शास्त्र में ईशान कोण का वृहद् महत्व्य बताया गया है | यह वह स्थान है जिस पर गुरु ग्रह व्र्हस्पति का अधिपत्य है | साथ ही यहाँ वास्तु पुरुष का मस्तक भी है जिसे महादेव शिव का शीश होने की संज्ञा भी दी जाती है | शायद ऐसा इसलिए है क्यूंकि उत्तर और पूर्व …

ईशान कोण (जल स्थान )में क्या हो, क्या न हो? – वैदिक वास्तु शास्त्र – ishan kon (jal sthan )mein kya ho, kya na ho? – vedic vastu shastra Read More »

vastu shastra mein ishan kon ka mahatva

वास्तु शास्त्र में ईशान कोण का महत्व – वास्तुशास्त्र – vastu shastra mein ishan kon ka mahatva – vastu shastra

जमीन के उत्तर-पूर्व कोने को ईशान कोण कहा जाता है। यह माना जाता है कि इस कोण पर देवताओं और आध्यात्मिक शक्ति का वास रहता है। इसलिए यह घर का सबसे पवित्र कोना होता है।भगवान शिव का एक नाम ईशान भी है। चूंकि भगवान शिव का आधिपत्य उत्तर-पूर्व दिशा में होता है इसीलिए इस दिशा …

वास्तु शास्त्र में ईशान कोण का महत्व – वास्तुशास्त्र – vastu shastra mein ishan kon ka mahatva – vastu shastra Read More »

eeshaan kon

ईशान कोण – शिक्षा सम्बन्धी उपाय और टोटके – eeshaan kon – shiksha sambandhi upay aur totake

पड़ते समय छात्र का मुंह सदैव ईशान कोण ( उत्तर पूर्व ) की तरफ ही होना चाहिए इसलिए उसकी मेज इस तरह से हो की उसका मुंह ईशान कोण की तरफ ही रहे । ईशान कोण – ishan kon – शिक्षा सम्बन्धी उपाय और टोटके