Shani Upaya

hallmark of unlucky saturn

अशुभ शनि की पहचान – शनि ग्रह प्रभाव | Hallmark of unlucky saturn – shani grah prabhaav

  जन्मकुंडली में शनि ग्रह अशुभ प्रभाव में होने पर व्यक्ति को निर्धन, आलसी, दुःखी, कम शक्तिवान, व्यापार में हानि उठाने वाला, नशीले पदार्थों का सेवन करने वाला, अल्पायु निराशावादी, जुआरी, कान का रोगी, कब्ज का रोगी, जोड़ों के दर्द से पीड़ित, वहमी, उदासीन, नास्तिक, बेईमान, तिरस्कृत, कपटी, अधार्मिक तथा मुकदमें व चुनावों में पराजित …

अशुभ शनि की पहचान – शनि ग्रह प्रभाव | Hallmark of unlucky saturn – shani grah prabhaav Read More »

remedy for auspicious shani

शुभ शनि के लिए उपाय – शनि ग्रह प्रभाव | Remedy for auspicious Shani – shani grah prabhaav

  शुभ तथा सम शनि ग्रह के प्रभाव में वृद्धि करने के लिए निम्नलिखित उपाय करें। १. शनिवार को नीलम रत्न धारण करें। नीलम रत्न चांदी अथवा लोहे की अंगूठी में मध्यमा अंगुली में धारण करना चाहिए। अंगूठी इस प्रकार बनवाएं कि नीलम नीचे से आपकी त्वचा को छूता रहे। नीलम धारण करने से पहले …

शुभ शनि के लिए उपाय – शनि ग्रह प्रभाव | Remedy for auspicious Shani – shani grah prabhaav Read More »

shanidev prayer

शनिदेव प्रार्थना – शनि ग्रह प्रभाव | Shanidev Prayer – shani grah prabhaav

  हे शनिदेव, तेरी महिमा अपरमपार है। मेरी तुमसे यही प्रार्थना है मेरे से कभी भी अन्याय, अत्याचार, दूराचार, पापाचार, व्यभिचार ना हो। दुःख और सुख जीवन का हिस्सा हैं। सुख में अभिमान ना करूँ। दुःख के समय मुझे इतनी शक्ति दो कि मैं उसका सामना कर सकूँ। हे शनिदेव ! मैं तेरी सन्तान हूँ। …

शनिदेव प्रार्थना – शनि ग्रह प्रभाव | Shanidev Prayer – shani grah prabhaav Read More »

factor of saturn

शनि ग्रह के कारकत्व – शनि ग्रह प्रभाव | Factor of saturn – shani grah prabhaav

  शनि ग्रह सामान्यतया जिन वस्तुओं का कारक है वे हैं : जड़ता, आलस्य, रुकावट, घोड़ा, हाथी, चमड़ा, बहुत कष्ट, रोग, विरोध, दुःख, मरण, दासी, गधा, अथवा खच्चर, चांडाल, विकृत अंगों वाले व्यक्ति, वनों में भ्रमण करने वाले, डरावनी सूरत, दान, स्वामी, आयु, नपुंसक, दासता का कर्म, अधार्मिक कृत्य, पौरुषहीन, मिथ्या, भाषण, वृद्धावस्था, नसें, परिश्रम, …

शनि ग्रह के कारकत्व – शनि ग्रह प्रभाव | Factor of saturn – shani grah prabhaav Read More »

shanidev is not a cruel planet

शनिदेव क्रुर ग्रह नहीं हैं – शनि ग्रह प्रभाव | Shanidev is not a cruel planet – shani grah prabhaav

  शनिदेव क्रुर ग्रह नहीं हैं, वो न्यायकर्ता है। व्यक्ति पाप करता रहता है, और जब उस व्यक्ति पर शनि की साढ़ेसाती आती है, तो उसके पापो का हिसाब स्वयं शनिदेव करते है। जब आप लोभ, हवस, गुस्सा, मोह से प्रभावित होकर अन्याय, अत्याचार, दूराचार, अनाचार, पापाचार, व्यभिचार को सहारा लेते है, जब सब से …

शनिदेव क्रुर ग्रह नहीं हैं – शनि ग्रह प्रभाव | Shanidev is not a cruel planet – shani grah prabhaav Read More »

sign of auspiciousness

शुभ की निशानी – शनि ग्रह प्रभाव | Sign of auspiciousness – shani grah prabhaav

  शनि की स्थिति यदि शुभ है तो व्यक्ति हर क्षेत्र में प्रगति और उन्नति करता रहता है। उसके जीवन में किसी भी प्रकार का कष्ट नहीं होता। बाल और नाखून मजबूत होते हैं। ऐसा व्यक्ति न्यायप्रिय होता है और समाज में उसका मान-सम्मान खूब रहता हैं। धन की किसी भी प्रकार से कभी नहीं …

शुभ की निशानी – शनि ग्रह प्रभाव | Sign of auspiciousness – shani grah prabhaav Read More »

saturn according to astrology

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि – शनि ग्रह प्रभाव | Saturn according to astrology – shani grah prabhaav

  ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि ग्रह यदि कहीं रोहिणी-शकट भेदन कर दे तो पृथ्वी पर बारह वर्ष घोर दुर्भिक्ष पड़ जाय और प्राणियों का बचना ही कठिन हो जाय। शनि ग्रह जब रोहिणी का भेदन कर बढ़ जाता है, तब यह योग आता है। यह योग महाराज दशरथ के समय में आने वाला था। …

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि – शनि ग्रह प्रभाव | Saturn according to astrology – shani grah prabhaav Read More »

ways to make shani good

शनि को अच्छा बनाने के तरीके – शनि ग्रह प्रभाव | Ways to make Shani good – shani grah prabhaav

  * घर का वायव्य कोण का सुधार करें। * सर्वप्रथम भगवान भैरव की उपासना करें। * शनि की शांति के लिए महामृत्युंजय मंत्र का जप भी कर सकते हैं। * तिल, उड़द, भैंस, लोहा, तेल, काला वस्त्र, काली गौ और जूता दान देना चाहिए। * कुत्ते और कौवे को प्रतिदिन रोटी खिलाएं। * चींटियों …

शनि को अच्छा बनाने के तरीके – शनि ग्रह प्रभाव | Ways to make Shani good – shani grah prabhaav Read More »

vision of lord shani

शनिदेव जी की दृष्टि – शनि ग्रह प्रभाव | Vision of Lord Shani – shani grah prabhaav

  शनिदेव जी की दृष्टि में जो क्रूरता है, वह इनकी पत्नी के शाप के कारण है। ब्रह्मपुराण में इनकी कथा इस प्रकार आयी है- बचपन से ही शनि देवता भगवान्‌ श्रीकृष्ण के परम भक्त थे। वे श्रीकृष्ण के अनुराग में निमग्न रहा करते थे। वयस्क होने पर इनके पिता ने चित्ररथ की कन्या से …

शनिदेव जी की दृष्टि – शनि ग्रह प्रभाव | Vision of Lord Shani – shani grah prabhaav Read More »

saturn's disease

शनि की बीमारी – शनि ग्रह प्रभाव | Saturn’s disease – shani grah prabhaav

  * शनि का संबंध मुख्‍य रूप से दृष्टि, बाल, भवें और कनपटी से होता है। * समय पूर्व आंखें कमजोर होने लगती हैं और भवों के बाल झड़ जाते हैं। * कनपटी की नसों में दर्द बना रहता है। * समय पूर्व ही सिर के बाल झड़ जाते हैं। * फेफड़े सिकुड़ने लगते हैं …

शनि की बीमारी – शनि ग्रह प्रभाव | Saturn’s disease – shani grah prabhaav Read More »