uttara bhadrapada nakshatra

kark lagn uttara bhaadrapad

कर्क लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Cancer ascendant Uttara Bhadrapad – kark lagn uttara bhaadrapad

कर्क लग्न में शनि अकारक ही रहेगा यदि गुरु शुभ रहा तो उत्तम फल मिलेंगे। kark lagn uttara bhaadrapad – कर्क लग्न उत्तरा भाद्रपद – कर्क लग्न उत्तरा भाद्रपद – Cancer ascendant Uttara Bhadrapad  

sinh lagn uttara bhaadrapad

सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Leo ascendant Uttara Bhadrapad – sinh lagn uttara bhaadrapad

सिंह लग्न में नक्षत्र स्वामी फलदायी रहेगा। ऐसे जातक शत्रुहंता, उत्तम आयु के होंगे। sinh lagn uttara bhaadrapad – सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – सिंह लग्न उत्तरा भाद्रपद – Leo ascendant Uttara Bhadrapad  

dhanu lagn uttara bhaadrapad

धनु लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Sagittarius ascendant Uttara Bhadrapad – dhanu lagn uttara bhaadrapad

धनु लग्न में नक्षत्र स्वामी शनि एकादश व द्वितीय भाव में शुभ रहेगा। वहीं राशि स्वामी गुरु लग्न, पंचम, नवम, चतुर्थ में शुभ फलदायी रहेगा। ऐसा जातक धनी प्रशासनिक अधिकारी भी बन सकता है dhanu lagn uttara bhaadrapad – धनु लग्न उत्तरा भाद्रपद – धनु लग्न उत्तरा भाद्रपद – Sagittarius ascendant Uttara Bhadrapad  

kumbh lagn uttara bhaadrapad

कुंभ लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Aquarius married to answer Bhadrapad – kumbh lagn uttara bhaadrapad

कुंभ लग्न में राशि स्वामी शनि नवम, लग्न, द्वादश में ठीक रहेगा, वहीं गुरु द्वितीय, तृतीय, षष्ठ, सप्तम, शम में उत्तमफलदायी रहेगा। kumbh lagn uttara bhaadrapad – कुंभ लग्न उत्तरा भाद्रपद – कुंभ लग्न उत्तरा भाद्रपद – Aquarius married to answer Bhadrapad  

meen lagna uttara bhadrapada

मीन लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Pisces ascendant Uttara Bhadrapad – meen lagna uttara bhadrapada

मीन लग्न में नक्षत्र स्वामी षष्ठ एकादश में ही शुभ फलदायी रहेगा। राशि स्वामी गुरु लग्न द्वितीय, पंचम, षष्ठ, नवम, दशम भाव में शुभ फलदायी रहेगा। इस प्रकार शनि यदि कुंडली में कारक हो तो ऐसेथिस्ट पहने व गुरु की स्थिति उत्तम हो तो पुखराज धारण करने से इसके शुभ परिणाम मिलेंगे। meen lagna uttara …

मीन लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Pisces ascendant Uttara Bhadrapad – meen lagna uttara bhadrapada Read More »

uttara bhaadrapad parichay

उत्तरा भाद्रपद परिचय – उत्तरा भाद्रपद – Uttara Bhadrapad About – uttara bhaadrapad parichay

उत्तरा भाद्रपद आकाश मंडल में 26वाँ नक्षत्र है। यह मीन राशि के अंतर्गत आता है। इसे दू, थ, झ नाम से जाना जाता है। उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र का स्वामी शनि है। वहीं राशि स्वामी गुरु है। शनि गुरु में शत्रुता है। कहीं इनका तालमेल व पंचधामेत्री चक्र में जिस जातक की कुंडली में मित्र का …

उत्तरा भाद्रपद परिचय – उत्तरा भाद्रपद – Uttara Bhadrapad About – uttara bhaadrapad parichay Read More »

vrshabh lagn uttara bhaadrapad

वृषभ लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Taurus ascendant Uttara Bhadrapad – vrshabh lagn uttara bhaadrapad

वृषभ लग्न में शनि की स्थिति लग्न, तृतीय, षष्ठ, नवम भाव में अति शुभ फलदायी होकर उच्च स्तर तक पहुँचने वाले होंगे। गुरु यदि मीन, कर्क, सिंह का हो तो और अधिक शुभ फलदायी होगा। गुरु सप्तम, दशम, तृतीय, एकादश में हो तो उत्तम फल मिलेंगे। ऐसा जातक कठिन परिस्थितियों से उभरकर उत्तम सफलता पाने …

वृषभ लग्न उत्तरा भाद्रपद – उत्तरा भाद्रपद – Taurus ascendant Uttara Bhadrapad – vrshabh lagn uttara bhaadrapad Read More »

purva bhadrapada nakshatra samshya

पूर्व भाद्रपद नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – East Bhadrapad Star – purva bhadrapada nakshatra samshya

पूर्व भाद्रपद नक्षत्र के देवता वृहस्पति को माना जाता है,जबकि वैज्ञानिक ष्टिकोण से आम के पेड को पूर्व भाद्रपद नक्षत्र का प्रतीक माना जाता है और पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग आम के पेड की पूजा करते है। इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने घर के खाली हिस्से में आम …

पूर्व भाद्रपद नक्षत्र – नक्षत्र के वृक्ष द्वारा अपनी समस्याओं को दूर करें – East Bhadrapad Star – purva bhadrapada nakshatra samshya Read More »

purva bhadrapada nakshatra

परोपकारी होते हैं पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र के जातक। – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Philanthropist are native to pūrva bhādrapadā constellation. – purva bhadrapada nakshatra

नक्षत्रों की दुनियां में पूर्वाभाद्रपद का स्थान 25वां हैं (Purvabhadrapada is the 25rd Nakshatra in the group of 27 Constellation)। इस नक्षत्र के स्वामी बृहस्पति यानी गुरू होते हैं (Jupiter is the lord of Purvabhadrapada)। इस नक्षत्र का एक चरण मीन में होता है और तीन चरण कुम्भ में रहता है। इस नक्षत्र में जन्म …

परोपकारी होते हैं पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र के जातक। – गृह नक्षत्र का प्रभाव – Philanthropist are native to pūrva bhādrapadā constellation. – purva bhadrapada nakshatra Read More »