;

vastu pujan in english

vaastudev ka poojan 2

वास्तुदेव का पूजन 2 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastudev ka poojan 2 – sampurna vastu dosh nivaran

श्री गणेशजी की मूर्ति की तरह ही स्वस्तिक यंत्र भी सौ हजार बोविस धनात्मक ऊर्जा उत्पन्न करने में सक्षम होता है। उसके इस गुण केकारण कई वास्तु दोष दूर हो जाते हैं। गुरु पुष्यामृत योग, रविपुष्य योग, दीवाली, गणेश चतुर्थी, नव संवत्सरारंभ, नव वर्ष के दिन,बुधवार को अथवा अपने मन को अच्छी लगने वाली किसी …

वास्तुदेव का पूजन 2 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastudev ka poojan 2 – sampurna vastu dosh nivaran Read More »

vaastudev ka poojan

वास्तुदेव का पूजन – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastudev ka poojan – sampurna vastu dosh nivaran

सुख, शांति समृद्धि के लिए निर्माण के पूर्व वास्तुदेव का पूजन करना चाहिए एवं निर्माण के पश्चात् गृह-प्रवेशके शुभ अवसर पर वास्तु-शांति, होम इत्यादि किसी योग्य और अनुभवी ब्राह्मण, गुरु अथवा पुरोहित के द्वारा अवश्य करवाना चाहिए। लंबाई चैड़ाई को तीन भागों में विभक्तकिया जाए तो ऐसे भूखंड या भवन का मध्यवर्ती हिस्सा ब्रह्म स्थान …

वास्तुदेव का पूजन – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastudev ka poojan – sampurna vastu dosh nivaran Read More »