banjhpan ke karan evam chikitsa

बांझपन का कारण एवं चिकित्सा – घरेलू उपचार – banjhpan ke karan evam chikitsa – gharelu upchar

चिकित्सा: 1. कालानमक: स्त्री का माथा दुखे तो समझना चाहिए कि गर्भाशय खुश्क है। इसके लिए सेंधानमक, लहसुन, समुद्रफेन 5-5 ग्राम की मात्रा में पीसकर रख लें, फिर 5 ग्राम दवा को पानी में पीसकर रूई में लगाकर योनि के अन्दर गर्भाशय के मुंह पर सोते समय 3 दिन तक रखना चाहिए। इससे गर्भाशय की …

बांझपन का कारण एवं चिकित्सा – घरेलू उपचार – banjhpan ke karan evam chikitsa – gharelu upchar Read More »