vivah yog vichar

विवाह योग विचार – अठारहवाँ दिन – Day 18 – 21 Din me kundli padhna sikhe – vivah yog vichar – Atharahavaan Din

सप्तम स्थान में जितने ग्रह हों, उतने ही विवाह होते हैं। लेकिन उन पर सप्तमेश की दृष्टि आवश्यक है इसी प्रकार कुटुंब स्थान अर्थात् दुतीय स्थान में जितने ग्रह द्वितीयेश से दृष्ट हों, उतने ही विवाह होते हैं बुद्धिमान दैवग्यों अधिक बल वाले ग्रह के योगों से विवाह की संख्या का विचार करना चाहिए इस …

विवाह योग विचार – अठारहवाँ दिन – Day 18 – 21 Din me kundli padhna sikhe – vivah yog vichar – Atharahavaan Din Read More »