jamun purush rog

जामुन पुरुष रोग – पुरुष रोग का आयुर्वेदिक उपचार – jamun purush rog – purush rog ka ayurvedic upchar

जामुन

मधुमेह के उपचार में जामुन एक पारंपरिक औषधि है। जामुन को मधुमेह के रोगी का ही फल कहा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी, क्योंकि इसकी गुठली, छाल, रस और गूदा सभी मधुमेह में बेहद फायदेमंद हैं। मौसम के अनुरूप जामुन का सेवन औषधि के रूप में खूब करना चाहिए। जामुन की गुठली संभालकर एकत्रित कर लें। इसके बीजों जाम्बोलिन नामक तत्व पाया जाता है, जो स्टार्च को शर्करा में बदलने से रोकता है। गुठली का बारीक चूर्ण बनाकर रख लेना चाहिए। दिन में दो-तीन बार, तीन ग्राम की मात्रा में पानी के साथ सेवन करने से मूत्र में शुगर की मात्रा कम होती है।

जामुन पुरुष रोग – jamun purush rog – पुरुष रोग का आयुर्वेदिक उपचार – purush rog ka ayurvedic upchar

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment