भारतीय वास्तु शास्त्र

labhkari vastu totake

लाभकारी वास्तु टोटके – चमत्कारिक टोटके – labhkari vastu totake – chamatkari totke

1    भवन के उत्तर में द्वार व खिड़कियाँ रखना से धनागमन होता है।2    भूखण्ड के उत्तर पूर्व में अण्डरग्राउण्ड पानी का टैंक रखने से स्थिर व्यवसाय एवं लक्ष्मी का वास होता है।3    उत्तर पूर्व के अण्डरग्राउण्ड टैंक से रोजाना पानी निकाल कर पेड़ पौधे सीचने से धन वृद्धि होती है।4    भवन के उत्तर पूर्व का …

लाभकारी वास्तु टोटके – चमत्कारिक टोटके – labhkari vastu totake – chamatkari totke Read More »

vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 2

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान 2 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 2 – sampurna vastu dosh nivaran

कई वास्तुविद् नैऋत्य कोण को ऊँचा करने के लिए एंटीना लगाने की सलाह देते है, क्या यह कारगर उपाय है? उत्तर : वास्तुशास्त्र के नियमों के अनुसार उत्तर व पूर्व की तुलना दक्षिण व पश्चिम को ऊँचा रखना चाहिए क्योंकि वास्तु एक विज्ञान है और इसमें सूर्य का बहुत महत्त्व है, सूर्य की प्रातःकालीन किरणें …

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान 2 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 2 – sampurna vastu dosh nivaran Read More »

vaastu guru dvaara vaastu sambandhee shankaon ka samaadhaan

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dvaara vaastu sambandhee shankaon ka samaadhaan – sampurna vastu dosh nivaran

यदि बड़े मकान के छोटे से भाग में वास्तुदोष होने से पूरा मकान ही वास्तुदोष युक्त हो जाता है, तो क्या ऐसे में दोषपूर्ण भाग की परिवार के ही किसी दूसरे सदस्य के नाम से रजिस्ट्री करने से क्या वह दोष समाप्त हो सकता है?उत्तर : कई मकानों के थोड़े से भाग में वास्तुदोष इस …

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dvaara vaastu sambandhee shankaon ka samaadhaan – sampurna vastu dosh nivaran Read More »

vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 1

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान 1 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 1 – sampurna vastu dosh nivaran

क्या वास्तुदोष निवारण यंत्र लगाने से कुछ लाभ होता है?उत्तर : बिल्कुल नहीं! वास्तुशास्त्र के प्रथम ग्रन्थ से लेकर, 1995 से पूर्व छपे किसी भी वास्तुशास्त्र के ग्रन्थ में इस प्रकार के किसी भी यंत्र का वर्णन नहीं है। यह वास्तुदोष निवारण यंत्र केवल तथाकथित लालची वास्तुशास्त्रियों द्वारा भोली-भाली जनता को लूटने के लिए बनाया …

वास्तु गुरु द्वारा वास्तु सम्बन्धी शंकाओं का समाधान 1 – सम्पूर्ण वास्तु दोष – vaastu guru dwara vaastu sambandhi shankaon ka samadhan 1 – sampurna vastu dosh nivaran Read More »

saral vaastu tips 2 - kya karen

सरल वास्तु टिप्स 2 – क्या करें, क्या न करें – वैदिक वास्तु शास्त्र – saral vaastu tips 2 – kya karen, kya na kare – vedic vastu shastra

भवन निर्माण या वास्तु दोषों से मुक्ति हेतु कुछ वैज्ञानिक प्रयासों को अंजाम देकर परिवार में सुख, शांति और व्यापारिक संस्थानों को श्रीसमृद्धि से युक्त बनाया जा सकता है! वास्तु टिप्स का लाभ उठा कर अपने बौद्धिक साहस का परिचय दीजिए! चमत्कारों का सूर्य आपको आभायुक्त बना देगा! धन-समृद्धि के लिए धन की पेटी (कैश …

सरल वास्तु टिप्स 2 – क्या करें, क्या न करें – वैदिक वास्तु शास्त्र – saral vaastu tips 2 – kya karen, kya na kare – vedic vastu shastra Read More »

vaidik vaastushaastr- dishaon aur konon ka vigyaan

वैदिक वास्तुशास्त्र- दिशाओं और कोणों का विज्ञान – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vaastushaastr- dishaon aur konon ka vigyaan – vedic vastu shastra

आज किसी भी भवन निर्माण में वास्तुशास्त्री की पहली भूमिका होती है, क्योंकि लोगों में अपने घर या कार्यालय को वास्तु के अनुसार बनाने की सोच बढ़ रही है! यही वजह है कि पिछले करीब एक दशक से वास्तुशास्त्री की मांग में तेजी से इजाफा हुआ है! वास्तु ऐसा विषय है, जिस पर पुरातन काल …

वैदिक वास्तुशास्त्र- दिशाओं और कोणों का विज्ञान – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vaastushaastr- dishaon aur konon ka vigyaan – vedic vastu shastra Read More »

vaidik vastu shastra mein ishan kon ka mahatva

वैदिक वास्तु शास्त्र में ईशान कोण का महत्व – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra mein ishan kon ka mahatva – vedic vastu shastra

जमीन के उत्तर-पूर्व कोने को ईशान कोण कहा जाता है! यह माना जाता है कि इस कोण पर देवताओं और आध्यात्मिक शक्ति का वास रहता है! इसलिए यह घर का सबसे पवित्र कोना होता है! * भगवान शिव का एक नाम ईशान भी है! चूंकि भगवान शिव का आधिपत्य उत्तर-पूर्व दिशा में होता है इसीलिए …

वैदिक वास्तु शास्त्र में ईशान कोण का महत्व – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra mein ishan kon ka mahatva – vedic vastu shastra Read More »

vaidik vastu shastra ka udbhav

वैदिक वास्तुशास्त्र का उदभव – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra ka udbhav – vedic vastu shastra

'वैदिक शास्त्रों में वास्तु का अर्थ है गृह निर्माण योग्य भूमि! अर्थात् जिस भूमि पर अधिक सुरक्षा व सुविधा प्राप्त हो सके, इस प्रकार के मकान को भवन व महल आदि जिसमें मनुष्य रहते हैं या काम करते हैं वास्तु कहते है। इस ब्रह्मण्ड में सबसे शाक्तिशाली प्राकृति है क्योंकि यही सृष्टि का विकास करती …

वैदिक वास्तुशास्त्र का उदभव – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra ka udbhav – vedic vastu shastra Read More »

vaidik vastu shastra kee bhoomika

वैदिक वास्तु शास्त्र की भूमिका – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra kee bhoomika – vedic vastu shastra

वास्तु शास्त्र की भूमिका ओम प्रकाश दार्शनिक आज मानवीय सृष्टि में जो कुछ भी और जैसे भी हो रहा है, वह यदि अवांछित ढंग से न होकर विधि सापेक्ष रूप में हो तो निश्चित ही बहुत से अमंगल टल सकते हैं! वास्तुशास्त्र इस मांगल्य की स्थापना में हमारा सहायक अथवा मार्गदर्शक हो सकता है! भली-भांति …

वैदिक वास्तु शास्त्र की भूमिका – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik vastu shastra kee bhoomika – vedic vastu shastra Read More »

vaidik kal darpan vaastu

वैदिक काल दर्पण वास्‍तु – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik kal darpan vaastu – vedic vastu shastra

वातावरण में व्‍याप्‍त सकारात्‍म्‍क ऊर्जाओं का उपयोग एवं नकारात्‍मक ऊर्जाओं का प्रतिरोध ही वास्‍तु है! दर्पण के द्वारा भी इन ऊर्जाओं को प्राप्‍त किया जा सकता है! इस पुस्‍तक में दर्पणों के सकारात्‍मक एवं नकारात्‍मक उपयोगों का सचित्र वर्णन किया गया है सकारात्‍मक उपयोग जीवन में लाभकारी एवं नकारात्‍मक उपयोग हानिकारक सिद्ध हो सकते हैं! …

वैदिक काल दर्पण वास्‍तु – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaidik kal darpan vaastu – vedic vastu shastra Read More »