;

सोळा शृंगार मराठी

aarasee - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

आरसी – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – aarasee – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

आरसी एक ऐसी खूबसूरत रिंग होती है जिसे दुल्हन अपने बाएं अंगूठे पर पहनती है। आरसी में एक एक छोटा-सा आइना होता है जिसमें वह अपने और अपने जीवनसाथी की झलक को देख पाती है। असल में, परंपराओं के मुताबिक, शादी की रस्मों के दौरान दुल्हन अपने होने वाले पति की सूरत नहीं देख सकती। …

आरसी – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – aarasee – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

kamaraband - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

कमरबंद – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – kamaraband – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

सोने या चांदी का बना कमरबंद दुल्हन की कमर की शोभा ही नहीं बढ़ाता बल्कि भारी साड़ी को संभाले रखने का भी काम करता है। कमरबंद – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – kamaraband – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – महिला शरीर के रहस्य – mahila sharir ke rahasya

jhumaka - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

झुमका – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – jhumaka – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

दुल्हन के ईयररिंग्स आमतौर पर कनफूल या झूमर की तरह के होते हैं, जो आम दिनों में पहनी जाने वाली रिंग्स से भारी होते हैं। कश्मीर में देजाहारु (खास किस्म के ईयररिंग्स)पहनने की परंपरा है। झुमका – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – jhumaka – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – महिला शरीर …

झुमका – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – jhumaka – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

baajooband - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

बाजूबंद – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – baajooband – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

बाजूबंद खासतौर से राजस्थानी शादियों में पहने जाते हैं। दुल्हनें, इसे बाजू के ऊपरी हिस्से में बांधती हैं। बाजूबंद – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – baajooband – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – महिला शरीर के रहस्य – mahila sharir ke rahasya

choodiyaan - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

चूड़ियां – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – choodiyaan – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

चूड़ियां और कंगन भी शादीशुदा महिला के लिए खासा महत्व रखते हैं। कई प्रांतों में तो इनका इनका महत्व है कि सोना नहीं तो कांच की चूड़ियां पहनना जरूरी होता है। बंगाल में शका-पोला-लोहा तो पंजाब में चूड़े…अलग अलग प्रांत में अलग-अलग चलन है। कहा जाता है कि नई-नवेली दुल्हन की कलाई चूड़ियों से भरी …

चूड़ियां – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – choodiyaan – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

mehandee - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

मेहंदी – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – mehandee – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

मेहंदी या हिना को प्यार का प्रतीक माना जाता है। कहते हैं, मेहंदी का रंग जितना ज्यादा चढ़ता है पति-पत्नी के बीच का प्यार उतना ही गहरा होता है। कई दिनों तक चलने वाली शादी की रस्मों में एक दिन मेहंदी के लिए रखा जाता है, जब दुल्हन, उसके रिश्तेदार और दोस्त मेहंदी लगाते हैं। …

मेहंदी – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – mehandee – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

haath phool - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

हाथ फूल – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – haath phool – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

हाथफूल का शाब्दिक अर्थ है हाथों का फूल। दोनों हाथों की उंगलियों में 8 रिंग्स से जुड़ा होता है फूल जो हथेलियों के पिछले हिस्से में बीचों-बीच सेच होता है। हाथफूल में तीन चेन होती हैं जो कंगन से जुड़ी होती हैं और पांच चेनें पांचों उंगलियों की रिंग्स से जुड़ती हैं। इन दिनों ऐसे …

हाथ फूल – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – haath phool – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

keshapasha rachana - solah shringar ko khole naaree rahasya

केशपाश रचना – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – keshapasha rachana – solah shringar ko khole naaree rahasya – mahila sharir ke rahasya

केशपशारचना का अर्थ है केश यानी बालों की रचना या उनका अरेंजमेंट। तेल के नहान के बाद दुल्हन के बालों को फूलों और गहनों से सजाया जाता है। अगर बाल बहुत लंबे हैं तो उन्हें गूंथकर हर गुथ को गहने से सजाया जाता है। केशपाश रचना – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – keshapasha …

केशपाश रचना – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – keshapasha rachana – solah shringar ko khole naaree rahasya – mahila sharir ke rahasya Read More »

maang teeka - solah shrrngaar ko khole naaree rahasy

मांग टीका – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – maang teeka – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya

मांग यानी पार्टिंग जहां विवाहिताएं सिंदूर भरती हैं। दुल्हन की मांग को मांग टीका से सजाया जाता है। यह टीका सोने, चांदी या किसी महंगी धातु का बना होता है। शादी के दौरान मांग टीका और सिंदूर काफी महत्व रखते हैं, क्योंकि सिंदूर भरने की रस्म सबसे खास होती है। मांग टीका – सोलह श्रृंगार …

मांग टीका – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – maang teeka – solah shrrngaar ko khole naaree rahasy – mahila sharir ke rahasya Read More »

sindoor - solah shringar ko khole nari rahasya

सिंदूर – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – sindoor – solah shringar ko khole nari rahasya – mahila sharir ke rahasya

दुल्हन के लिए सिंदूर सबसे बड़ा गहना होता है। शादी के मंडप में सिंदूर धारण करने के बाद वह किसी की पत्नी और किसी की बहू बन जाती है। सिंदूर का मतलब उसकी शादी किसी से हुई जो उसकी रक्षा करेगा, देखभाल करेगा। और, वह किसी की देखभाल करेगी। इसे सुहाग की निशानी कहते हैं …

सिंदूर – सोलह श्रृंगार को खोले नारी रहस्य – महिला शरीर के रहस्य – sindoor – solah shringar ko khole nari rahasya – mahila sharir ke rahasya Read More »