12 bhav me chandrama

chandr ke anisht mein hone par karen yah upaay

चंद्र के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ke anisht mein hone par karen yah upaay – Nauvan Din

किसी जातक की कुंडली के गोचर में चंद्र निर्बल व पाप ग्रस्त हो तथा कुंडली में छठे, आठवें, दसवें व बारहवें भाव में स्थित हो तो इस कारण मानसिक पीड़ा, जल तत्व से जुड़ा रोग व पद व गुण हानि की समस्याएं आती हैं। क्या उपाय करें : रात को दूध का सेवन न करें। …

चंद्र के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ke anisht mein hone par karen yah upaay – Nauvan Din Read More »

chandr ka barahvin bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का बारहवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka barahvin bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

यह घर चंद्रमा के मित्र बृहस्पति का है। यहां स्थित चंद्रमा मंगल और मंगल से संबंधित चीजों पर अच्छा प्रभाव डालता है, लेकिन यह अपने दुश्मन बुध और केतु तथा उनसे संबंधित चीजों को नुकसान पहुंचाएगा। इसलिए मंगल जिस भाव में बैठा है उससे जुडा व्यापार और चीजें जातक के लिए अत्यधिक लाभकारी रहेंगी। ठीक …

चन्द्र का बारहवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka barahvin bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka nauven bhaav mein phal - kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manush‍ya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का नौवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka nauven bhaav mein phal – kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manush‍ya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

नौवां घर बृहस्पति, से सम्बंधित होता है जो चंद्रमा का परममित्र है। इसलिए जातक इन दोनों ग्रहों के लक्षण और सुविधाओं को आत्मसात करता है साथ ही अच्छे आचरण, कोमक हृदय, मन से धार्मिक, और धार्मिक कृत्यों तथा तीर्थयात्राओं से प्रेम करने वाला होता है। वह 75 वर्षों तक जीवित रहता है। पाचवें घर में …

चन्द्र का नौवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka nauven bhaav mein phal – kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manush‍ya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka dasvin bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का दसवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka dasvin bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

दसवां घर हर तरीके में शनि द्वारा शासित है। यह घर चौथे घर के द्वारा देखा जाता है, जो चंद्रमा द्वारा शासित होता है। इसलिए इस घर में स्थित चंद्रमा जातक को 90 साल की लंबी आयु सुनिश्चित करता है। चंद्रमा और शनि आपस में शत्रु हैं इसलिए, तरल रूप में दवाओं का सेवन जातक …

चन्द्र का दसवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka dasvin bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka gyarahve bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का ग्यारहवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka gyarahve bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

यह घर बृहस्पति और शनि से पूरी तरह प्रभावित होता है। इस घर में स्थित हर ग्रह अपने शत्रु ग्रहों और उनके साथ जुडी बातों को नष्ट कर देता है। इस प्रकार यहां स्थित चंद्रमा अपने शत्रु केतू की चीजों को नष्ट कर देता है जैसे जातक के बेटे आदि को। यहां चंद्रमा को अपने …

चन्द्र का ग्यारहवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka gyarahve bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka chathe bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का छठे भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka chathe bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

यह भाव बुध और केतु से प्रभावित होता है। इस घर में स्थित चंद्रमा दूसरे, आठवे, बारहवें और चौथे घरों में बैठे ग्रहों से प्रभावित होता है। ऐसा जातक बाधाओं के साथ शिक्षा प्राप्त करता है और अपनी शैक्षिक उपलब्धियों का लाभ उठाने के लिए उसे बहुत संघर्ष करना पडता है। यदि चंद्रमा छठवें, दूसरे, …

चन्द्र का छठे भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka chathe bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka satven bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaranchandr ka saataven bhaav mein phal - kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का सातवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka satven bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaranchandr ka saataven bhaav mein phal – kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

सातवां घर शुक्र और बुध से संबंधित होता है। जब चंद्रमा इस भाव में स्थित होता है तो परिणाम शुक्र, बुध और चंद्रमा से प्रभावित होता है। शुक्र और बुध मिलकर सूर्य का प्रभाव देते हैं। पहला भाव सातवें को देखता है नतीजन पहले घर से सूर्य की किरणे सातवें भाव में बैठे चंद्रमा को …

चन्द्र का सातवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka satven bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaranchandr ka saataven bhaav mein phal – kundalee ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandra ka aathaven bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का आठवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandra ka aathaven bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

यह भाव मंगल और शनि के अंतर्गत आता है। यहां पर स्थित चंद्रमा जातक की शिक्षा पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। लेकिन यदि शिक्षा अच्छी है तो जातक की मां का जीवन छोटा होता है। लेकिन अक्सर यही देखने को मिलता है कि जातक शिक्षा और मां को खो देता है। हालांकि, यदि बृहस्पति और …

चन्द्र का आठवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandra ka aathaven bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandra ke chauthe bhav mein phal - kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का चौथे भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandra ke chauthe bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

चौथे भाव में स्थित चंद्रमा पर केवल चंद्रमा का ही पूर्णरूपेण प्रभाव होता है क्योंकि वह चौथे भाव और चौथी राशि दोनो का स्वामी होता है। यहां चन्द्रमा हर प्रकार से बहुत मजबूत और शक्तिशाली हो जाता है। चंद्रमा से संबन्धित वस्तुएं जातक के लिए बहुत फायदेमंद साबित होती हैं। मेहमानों को पानी की के …

चन्द्र का चौथे भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandra ke chauthe bhav mein phal – kundali ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »

chandr ka paanchvein bhav mein phal - kundli ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran

चन्द्र का पांचवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka paanchvein bhav mein phal – kundli ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din

पांचवें भाव में स्थित चंद्रमा के परिणाम में सूर्य, केतू और चंद्रमा का प्रभाव रहेगा। जातक हमेशा सही तरीके से पैसा कमाने की कोशिश करेगा, वह कभी भी गलत तरीके नहीं अपनाएगा। वह व्यापार में तो अच्छा नहीं कर पाएगा लेकिन निश्चित रूप से सरकार की ओर से सम्मान और सहयोग प्राप्त करेगा। उसके द्वारा …

चन्द्र का पांचवें भाव में फल – कुंडली के विभिन्न लग्न में चंद्रमा का मनुष्‍य पर प्रभाव व दोष निवारण – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – chandr ka paanchvein bhav mein phal – kundli ke vibhinn lagn mein chandrama ka manushya par prabhaav va dosh nivaaran – Pahla Din Read More »