pancham va ekaadash bhav - sabhee bhavon ke kaal sarp yog ka shubhaashubh vivaran va upaay

पंचम व एकादश भाव – सभी भावों के कालसर्प योग का शुभाशुभ विवरण व उपाय – इक्कीसवाँ दिन – Day 21 – 21 Din me kundli padhna sikhe – pancham va ekaadash bhav – sabhee bhavon ke kaal sarp yog ka shubhaashubh vivaran va upaay – Ikkeesavaan Din

पंचम व एकादश भाव के मध्य जो कालसर्प योग बनता हैं उसमें शिक्षा, सन्तान व लिवर पर प्रभाव पङता हैं। इस योग में विद्यार्थी को पढ़ाई करते समय संगति का ध्यान रखना चाहिए क्योकि राहु मन को भटकाता है। जीवन में कठिन परिस्थिति का सामना करना पङता हैं। संतान भी कष्ट से होती हैं।

उपाय : इस समय सर्प की पूजा करें और नाग गायञी का जाप करें।

पंचम व एकादश भाव – सभी भावों के कालसर्प योग का शुभाशुभ विवरण व उपाय – pancham va ekaadash bhav – sabhee bhavon ke kaal sarp yog ka shubhaashubh vivaran va upaay – इक्कीसवाँ दिन – Day 21 – 21 Din me kundli padhna sikhe – Ikkeesavaan Din

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment