baarish ke mausam mein kaisa ho aahaar

बारिश के मौसम में कैसा हो आहार – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – baarish ke mausam mein kaisa ho aahaar – purush rog ka yoga dwara upaay

बारिश के मौसम में कैसा हो आहार
डायटीशियन व योग विशेषज्ञ ममता गुरु ने बताया कि बरसात के मौसम में अगर खान-पान का ध्यान न रखा जाए तो, सर्दी-खाँसी, अस्थमा, पेट व गला खराब होने आदि की शिकायत हो सकती हैं।

इससे बचने के लिए इस मौसम में फ्रिज से निकाले गए खाद्य पदार्थ नहीं खाने चाहिए बल्कि इन्हें कुछ समय पहले निकालकर सामान्य तापमान होने पर खाना चाहिए। फ्रिज का ठंडा पानी भी गला खराब कर सकता है। बासे या खूब खट्टे दही से बने खाद्य पदार्थ भी नुकसान पहुँचा सकते हैं।

बारिश के दिनों में सब्जियों का जूस पीने के बजाय इनका सूप पिएँ। कोई भी सब्जी काटने से पूर्व अच्छी तरह धोएँ। खाना खाने के आधा घंटे बाद गुनगुना पानी पिएँ। इससे खराब पानी के कारण होने वाली पेट की बीमारियों से बचा जा सकता है।

मौसम में परिवर्तन के साथ ही सर्दी, जुकाम, खाँसी, अस्थमा, जोड़ों का दर्द जैसी बीमारियाँ परेशान करने लगती हैं। इनसे बचने के लिए सही आहार-विहार के साथ योग के विविध आसनों को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

सही जानकारी के साथ किए गए आसनों से श्वसन तंत्र मजबूत होता है व शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। जिसके कारण बीमारियों से बचाव होता है।

यह जानकारी गांगुली योग विद्यापीठ द्वारा तीन केंद्रों में आयोजित पाँच दिवसीय निःशुल्क योग शिविर में दी जा रही है। इसका शुभारंभ सोमवार को हुआ। 16 जुलाई तक चलने वाले इस शिविर के दौरान कमला पार्क स्थित आचार्य नरेन्द्रदेव लाइब्रेरी में सुबह साढ़े छह बजे से, पत्रकार कॉलोनी में शाम 5 बजे से तथा तुलसी नगर स्थित आंकाक्षा गेस्ट हाऊस में शाम सवा छःबजे से प्रशिक्षण दिया जा रहा है। शिविर में योग विशेषज्ञ राकेश श्रीवास्तव, राकेश नेमा, राजीव नेमा, अशोक गोधानी, अजय श्रीवास्तव, विकास शुक्ला, विमल भास्कर व डी.सी. जैन सहयोग कर रहे हैं।

बारिश के मौसम में कैसा हो आहार – baarish ke mausam mein kaisa ho aahaar – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – purush rog ka yoga dwara upaay

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment