guru grah ka prabhav

kundaliyon mein navam bhav brihaspati grah

कुण्डलियों में नवम भाव बृहस्पति गृह – चौदहवां दिन – Day 14 – 21 Din me kundli padhna sikhe – kundaliyon mein navam bhav brihaspati grah – Chaudahavaan Din

यदि कन्या धर्मपरायण है और वर विपरित प्रवृति का है तो भी बैमनस्य उत्पन्न हो सकता है। अत दोनों की कुण्डलियों में नवम भाव बृहस्पति गृह की स्थिति और बल का अवलोकन करना बी अति आवश्यक है। विवाह के उपरांत संतान की कामना भी स्वभाविक है। बृहस्पति गृह संतान का कारक ग्रह है। यदि वर …

कुण्डलियों में नवम भाव बृहस्पति गृह – चौदहवां दिन – Day 14 – 21 Din me kundli padhna sikhe – kundaliyon mein navam bhav brihaspati grah – Chaudahavaan Din Read More »

guru ke aage aur peeche ke grah bhee apana apana asar dete hai

गुरु के आगे और पीछे के ग्रह भी अपना अपना असर देते है – चौदहवां दिन – Day 14 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ke aage aur peeche ke grah bhee apana apana asar dete hai – Chaudahavaan Din

गुरु के पीछे के ग्रह गुरु को बल देते है और आगे के ग्रहों को गुरु बल देता है, जैसी सहायता गुरु को पीछे से मिलती है वैसी ही सहायता गुरु आगे के ग्रहो को देना शुरु कर देता है, यही हाल गोचर से भी देखा जाता है, गुरु के पीछे अगर मंगल और गुरु …

गुरु के आगे और पीछे के ग्रह भी अपना अपना असर देते है – चौदहवां दिन – Day 14 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ke aage aur peeche ke grah bhee apana apana asar dete hai – Chaudahavaan Din Read More »

guru ke anisht mein hone par karen yah upaay

गुरु के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ke anisht mein hone par karen yah upaay – Nauvan Din

किसी जातक के गोचर में गुरु नीच, वक्री व निर्बल हो तथा कुंडली में छठे, सातवें व दसवें भाव में स्थित हो तो मान-सम्मान में कमी, अधूरी दक्षिणा, गंजापन, झूठे आरोप, पीलिया आदि जैसे रोग व समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं। क्या उपाय करें : माथे पर नित्य हल्दी अथवा केसर का तिलक करें। पीपल …

गुरु के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ke anisht mein hone par karen yah upaay – Nauvan Din Read More »

guru ko kaise karen prasann

गुरु को कैसे करें प्रसन्न – चौथा दिन – Day 4 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ko kaise karen prasann – Chautha Din

– दान-द्रव्य: पुखराज, सोना, कांसी, चने की दाल, खांड, घी, पीला कपड़ा, पीला फूल, हल्दी, पुस्तक, घोड़ा, पीला फल दान करना चाहिए। – वृहस्पतिवार व्रत करना चाहिए। – रुद्राभिषेक करना चाहिए। – पांच मुखी रुद्राक्ष धारण करें। – साग का सेवन ज़रूर करें। – गुढ़हल के फूल को देवताओं को अर्पित करें – हरे प्याज …

गुरु को कैसे करें प्रसन्न – चौथा दिन – Day 4 – 21 Din me kundli padhna sikhe – guru ko kaise karen prasann – Chautha Din Read More »

kaisa hoga kundli mein guru ka paribhraman

कैसा होगा कुंडली में गुरु का परिभ्रमण – दूसरा दिन – Day 2 – 21 Din me kundli padhna sikhe – kaisa hoga kundli mein guru ka paribhraman – Doosara Din

प्रथम भाव में– आर्थिक कष्ट, चिंताएं घेरती है, यात्रा होती है। साथ ही रिश्तेदारों से मनमुटाव होता है। द्वितीय भाव में– घर में खुशी आती है। अविवाहित का विवाह होता है। गृहस्थी वाले के घर बच्चे का जन्म होता है। धन की प्राप्ति होती है, अर्थात् पूर्ण सुख मिलता है। इसी के साथ शत्रुओं का …

कैसा होगा कुंडली में गुरु का परिभ्रमण – दूसरा दिन – Day 2 – 21 Din me kundli padhna sikhe – kaisa hoga kundli mein guru ka paribhraman – Doosara Din Read More »