manglik dosh in hindi

mangali yog ya dosh

मंगली योग या दोष – बीसवां दिन – Day 20 – 21 Din me kundli padhna sikhe – mangali yog ya dosh – Beesavan Din

हिन्दू ज्योतिष में मंगल को लग्न, द्वितीय भाव में (भवदीपिका नामक ग्रंथ), चतुर्थ, सप्तम, अष्टम और द्वादश भाव में दोष पूर्ण माना जाता है। इन भावो में उपस्थित मंगल मंगली दोष का निर्माण करता है। इन भावो में मंगल को वैवाहिक जीवन के लिए अनिष्टकारक कहा गया है। जन्म कुण्डली में इन पांचों भावों में …

मंगली योग या दोष – बीसवां दिन – Day 20 – 21 Din me kundli padhna sikhe – mangali yog ya dosh – Beesavan Din Read More »

maangalik vichaar aur kundalee ke yog

मांगलिक विचार और कुंडली के योग – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – maangalik vichaar aur kundalee ke yog – Barahavaan Din

जन्म कुंडली में जब मंगल जन्म लग्न से 1, 4, 7, 8,12वें भाव में स्थित हो तो ऎसी कुंडली मांगलिक कहलाती है। चंद्र लग्न से मंगल की यही स्थिति चंद्र मांगलिक कहलाती है। पुरूष जातक की कुंडली में मंगल की यह स्थिति हो तो वह पगड़ी मंगल तथा स्त्री जातक की चुनरी मंगल वाली कुंडली …

मांगलिक विचार और कुंडली के योग – बारहवां दिन – Day 12 – 21 Din me kundli padhna sikhe – maangalik vichaar aur kundalee ke yog – Barahavaan Din Read More »

mangal dosh vs manglik dosh

मंगल दोष व मांगलिक दोष – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – mangal dosh vs manglik dosh – Pahla Din

जन्म कुंडली बनाने के बाद ज्योतिषी और पंडित जिस चीज पर सबसे ज्यादा ध्यान देते हैं वह है कुंडली में मौजुद दोष। किसी ग्रह का नीच भाव में होना या पाप ग्रहों द्वारा सीधा देखा जाना कुंडली में दोष उत्पन्न करता है। यह दोष पूर्व जन्म के भी हो सकते हैं या फिर इसी जन्म …

मंगल दोष व मांगलिक दोष – पहला दिन – Day 1 – 21 Din me kundli padhna sikhe – mangal dosh vs manglik dosh – Pahla Din Read More »

mangalnath ujjain

मंगलनाथ उज्जैन – मांगलिक दोष | Mangalnath Ujjain – manglik dosh

  मंगलनाथ उज्जैन के प्राचीन शहर में स्थित भगवान शिव को समर्पित एक पवित्र मंदिर है। यह मंदिर मुख्य शहर के शोर और भीड़भाड़ से दूर स्थित है। यह मंदिर शिप्रा नदी के पास स्थित है। मत्स्य पुराण के अनुसार ऐसी मान्यता है कि मंगलनाथ मंगल ग्रह का जन्म स्थान है। इस मंदिर में आने …

मंगलनाथ उज्जैन – मांगलिक दोष | Mangalnath Ujjain – manglik dosh Read More »

what is manglik defect?

क्या होता हैं मांगलिक दोष? – मांगलिक दोष | What is Manglik defect? – manglik dosh

  जहां एक ओर मंगल की स्थिति से रोजी रोजगार एवं कारोबार मे उन्नति और प्रगति होती है तो दूसरी ओर इसकी उपस्थिति वैवाहिक जीवन के सुख बाधा डालती है. कुण्डली में जब प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम अथवा द्वादश भाव में मंगल होता है तब मंगलिक दोष (manglik dosha)लगता है. लेकिन सिर्फ इतने से ही …

क्या होता हैं मांगलिक दोष? – मांगलिक दोष | What is Manglik defect? – manglik dosh Read More »

according to astrology

ज्योतिष के अनुसार – मांगलिक दोष | According to astrology – manglik dosh

  ज्योतिष के अनुसार मंगल की चार भुजाएँ है | इनके शारीर के रोए लाल है तथा इनके हाथो में अभय मुद्रा, त्रिशूल, गदा और वर मुद्रा है | इन्होने लाल माला और लाल वस्त्र धारण कर रखे है | इनके मस्तक पर स्वर्ण मुकुट है तथा ये मेष ( मेंढा ) के वहां पर …

ज्योतिष के अनुसार – मांगलिक दोष | According to astrology – manglik dosh Read More »

what are the mangal defects?

क्या हैं मांगलिक दोष? – मांगलिक दोष | What are the mangal defects? – manglik dosh

  आज के समाज में जहाँ एक ओर ज्योतिष के नकारने वालों की संख्या बढ़ी हैं , वही आश्चर्यजनक ढंग से ज्योतिष को मानने वालों की संख्या में भी बढ़ोत्तरी हुयी हैं . जब आप ज्योतिष के चमत्कारों को खुद महसूस करते हैं तो आपका मन ज्योतिष को मानने पर मजबूर होता हैं और साथ …

क्या हैं मांगलिक दोष? – मांगलिक दोष | What are the mangal defects? – manglik dosh Read More »

manglik dosh

मांगलिक दोष – मांगलिक दोष | Manglik Dosh – manglik dosh

  मांगलिक दोष होने पर इसका सरल और उत्तम उपचार है कि जिनसे वैवाहिक सम्बन्ध होने जा रहा हो उसकी कुण्डली में भी यह दोष वर्तमान हो। अगर वर और वधू दोनों की कुण्डली में समान दोष बनता है तो मंगल का कुप्रभाव स्वत: नष्ट हो जाता है। जिस कन्या की कुण्डली में मंगल 1, …

मांगलिक दोष – मांगलिक दोष | Manglik Dosh – manglik dosh Read More »

method of identification

पहचान का तरीका – मांगलिक दोष | Method of identification – manglik dosh

  किसी कि कुण्डली में मांगलिक दोष है इसकी पहचान का तरीका यह है कि जब मंगल कुण्डली में प्रथम भाव यानी लग्न में होता है तो मांगलिक कहलाता है इसी प्रकार जब मंगल लग्न से चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर होता है तो मांगलिक कुण्डली कहलाती है. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार मांगलिक दो …

पहचान का तरीका – मांगलिक दोष | Method of identification – manglik dosh Read More »

surefire way

अचूक उपाय – मांगलिक दोष | Surefire way – manglik dosh

  मंगल दोष के शमन का सरल एवं अचूक उपाय मंगल ग्रह का भात पूजन है | जिसके अनुसार सर्वप्रथम पंचांग कर्म जिसमे गनेशाम्बिका पूजन , पुण्याहवाचन, षोडश मातृका पूजन, नान्दी श्राद्ध एवं ब्राह्मन पूजन किया जाता है | तत्पश्चात भगवान मंगल देव का दूध, दही, घी, शहद, शक्कर, अष्टगंध, इत्र एवं भांग से स्नान …

अचूक उपाय – मांगलिक दोष | Surefire way – manglik dosh Read More »