saral vaastu tips 3 - kya karen

सरल वास्तु टिप्स 3 – क्या करें, क्या न करें – वैदिक वास्तु शास्त्र – saral vaastu tips 3 – kya karen, kya na kare – vedic vastu shastra

भवन निर्माण या वास्तु दोषों से मुक्ति हेतु कुछ वैज्ञानिक प्रयासों को अंजाम देकर परिवार में सुख, शांति और व्यापारिक संस्थानों को श्रीसमृद्धि से युक्त बनाया जा सकता है!

वास्तु टिप्स का लाभ उठा कर अपने बौद्धिक साहस का परिचय दीजिए! चमत्कारों का सूर्य आपको आभायुक्त बना देगा!

घर में कांटेदार पौधे, युद्ध के दृश्य, सूखे पेड़, जमीन, आंसू बहाते प्राणी, खूंखार जानवर आदि के चित्र न लगाएं!

बच्चों के कमरों में सुंदर प्राकृतिक दृश्य यथा समृद्ध हरे-भरे पहाड़, जल विहार तथा महापुरुषों के चित्र लगाएं! नाइट लैम्प के रूप में हरे या नीले बल्ब का प्रयोग सुखद रहेगा!

उत्तम भाग्य तथा पारिवारिक समृद्धि के लिए सुंदर रंगीन पर्दे, दीवार व छतों पर हल्के और मन लुभावने रंगों का प्रयोग करें!

कॉर्नर, बीम आदि की नकारात्मकता को समाप्त करने के लिए पेड़-पौधों, सीनरी व लाइट्स का प्रयोग पारिवारिक सुख-सौहार्द के लिए अनुकूलता प्रदान करेगा!

टॉयलेट में सीट पूर्व-‍पश्चिम दिशा की ओर कदापि नहीं होना चाहिए!

व्यावसायिक कार्यालयों में दक्षिण दिशा में संस्थान के मालिक की फोटो लगाएं!

पवन घंटियां घर में सौभाग्य बढ़ाने का अद्भुत स्रोत हैं! पवन घंटियां बैठक तथा घर में स्थापित मंदिर के दरवाजे पर लटकाने से शुभ्रता प्रदान करती है!

मधुर संबंधों के लिए प्रसन्नचित मुद्रा में संयुक्त परिवार का फोटो लगाएं!

घर में नमक मिले पानी से पोंछा लगाएं! यह घर में स्‍थित नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने में सहायक होगा!

सरल वास्तु टिप्स 3 – क्या करें, क्या न करें – saral vaastu tips 3 – kya karen, kya na kare – वैदिक वास्तु शास्त्र – vedic vastu shastra

 

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment