5. baaharee ang

5. बाहरी अंग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – 5. baaharee ang – purush rog ka yoga dwara upaay

5. बाहरी अंग
जबकि शरीर भीतर से स्वस्थ और ताकतवर बनेगा तो स्वाभाविक रूप से ही बाहरी अंगों और चमड़ी को इसका लाभ मिलेगा। संपूर्ण देह कांतिमय, सुंदर और स्वस्थ नजर आएगी। आसनों के द्वारा शरीर को एक सुंदर शेप दिया जा सकता है।

5. बाहरी अंग – 5. baaharee ang – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – purush rog ka yoga dwara upaay

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment